आप बैंक की गलती साबित कर सकते हैं उपभोक्ता न्यायालय में शिकायत प्रस्तुत करें।

consumer protectionसमस्या-

चतुरेश कुमार तिवारी ने इन्दौर, मध्य प्रदेश से पूछा है-

मैं इंदौर में एक निजी कंपनी में कार्यरतहूँ। मेरे फ़ोन पर दिनांक 13 अगस्त को दोपहर 2:56 मिनट पर एक अज्ञात कॉल 044-61607475 आया था जिसमें एक महिला ने स्वयं को बैंक प्रतिनिधि बताकरमुझसे मेरे क्रेडिट कार्ड की लिमिट जाननी चाही, जिसे मैंने देने से इंकार कर दिया था। इसके तुरंत बाद मुझे अपने मोबाइल पर 4.64 रुपए के अवैधट्रांज़ेक्शन का संदेश मिला तो मैंने तत्काल बैंक को सूचित कर अपना कार्डब्लॉक करवा दिया और लेनदेन संबंधी विवाद-प्रपत्र भी बैंक को मेल पर उसी दिनभेज दिए। बैंक ने मुझे भरोसा दिलाया था कि मेरे अगस्त माह के स्टेटमेंटमें इन विवादित लेनदेनों को नहीं जोड़ा जाएगा और इनकी जांच की जाएगी। अबबैंक ने 21 अगस्त को मेरे मेल पर जो स्टेटमेंट भेजा में उसमें विवादित 9 लेनदेनों में से 6 लेनदेनों का पैसा जोड़कर मुझे भुगतान करने को कहा है।इतना ही नहीं विवादित लेनदेनों का दिनांक 14 अगस्त दिखाया गया है जबकिमैंने अपना कार्ड 13 अगस्त को ही ब्लॉक करवा दिया था। ऐसे में मुझे क्याकरना चाहिए?

समाधान-

प ने जो सूचना यहाँ दी है उस में 4.64 रुपए से आप का क्या तात्पर्य है? समझ नहीं आया। आप ने जिस समय बैंक को अपना कार्ड ब्लाक करने की सूचना दी वह टेलीफोन पर मौखिक दी या फिर बैंक को एसएमएस किया था या फिर आप ने लिखित में बैंक को सूचना दी थी? यह भी स्पष्ट नहीं है। निश्चित रूप से बैंक ने आप का कार्ड 13 अगस्त को ब्लाक नहीं किया था। अन्यथा बैंक 14 अगस्त में ट्रांजेक्शन नहीं किया था। आप के पास इस बात का सबूत होना चाहिए कि आप ने फर्जी ट्रांजेक्शन को रोकने के लिए अपना कार्ड 13 को ही ब्लाक करवा दिया था। यदि आप के पास ऐसा सबूत है तो आप बैंक के विरुद्ध कार्यवाही कर सकते हैं।

ब भी हम बैंक को इस तरह का कोई आदेश देते हैं तो तुरन्त यह भी पक्का कर लेना चाहिए कि आप के आदेश की पालना तुरन्त कर दी गई है या नहीं। हो सकता है आप के आदेश को प्रोसेस करने में एक दिन का समय लगा हो और तब तक ये ट्रांजेक्शन हो चुके हों।

चूंकि आप खुद कह रहे हैं कि आपने विवाद पत्र 13 अगस्त को भेज दिया था। यदि आप इसे साबित कर सकते हैं तो बैंक को तुरन्त नोटिस दें कि यह ट्रांजेक्शन आप के कार्ड को ब्लाक करने का आदेश देने के उपरान्त हुए हैं, इस कारण इन की जिम्मेदारी आप की नहीं है। बैंक यदि इन की जिम्मेदारी लेने से बचता है तो आप बैंक के विरुद्ध उपभोक्ता न्यायालय के समक्ष शिकायत प्रस्तुत कीजिए।

Print Friendly, PDF & Email

3 टिप्पणियाँ

  1. Comment by चतुरेश कुमार तिवारी:

    रवि जी, धन्यवाद
    मैं मानता हूूं कि समस्या पूरी विस्तार से नहीं बता पाया। दरअसल 13 अगस्त को कॉल आने के बाद मेरे मोबाइल पर 4.64 रुपए वाले लेनदेन का एसएमएस आया था, जिसके बाद मैंने अपना क्रेडिट कार्ड ब्लॉक करवा दिया। जिसकी रिकॉडिंग मेरे पास है। मेरा क्रेडिट कार्ड दोपहर 3:12 मिनट पर 13 अगस्त को ब्लॉक हुआ। साथ ही इसका रिफ़रेंस नंबर भी मेरे पास है। मेरे क्रेडिट कार्ड से 36000 रुपए के कुल नौ अवैध लेनदेन हुए, जिसमें से 6 के लेनदेने विवरण संबंधी एसएमएस मुझे प्राप्त हुए, तीन अन्य लेनदेन के बारे में बैंक प्रतिनिधि ने मुझे बताया। हैरानी की बात यह है कि बैंक ने अगस्त माह के स्टेटमेंट में 9 में से 6 लेनदेन का बिल जोड़कर भेजा है और इनका लेनदेन 14 अगस्त दर्शाया है जबकि अन्य शेष तीन लेनदेन का दिनांक मेल पर एक जवाब में 13 अगस्त दिखाया है। एक और हैरान करने वाली बात यह है कि बैंक ने अपने शुरुआती जवाबी मेल में सभी लेनदेन 13 अगस्त को दिखाए हैं। ऐसे में समझ में नही आ रहा है कि बैंक एक तरफ अपने एक मेल में सभी लेनदेन 13 अगस्त को बता रहा है जबकि अगस्त माह के क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट में छह लेनदेन को 14 अगस्त बता रहा है। वहीं, मुझे सभी एसएमएस 13 अगस्त को प्राप्त हुए। एक बात और जो मैं साझा करना चाहता हूँ वह यह है कि ये सभी लेनदेन अमेरिका और कैलिफ़ोर्निया स्थित कंपनियों पर किए गए हैं जबकि मैं उस दिन अपने ऑफिस में काम कर रहा था। मैंने 13 अगस्त को ही इन्दोरेपोलिस.ओरजी पर शिकायत दर्ज की थी जिसका रेफ़रेंस नंबर #२९२ है। इसके अलावा 14 अगस्त को मैंने शिकायती आवेदन इंदौर साइबर सेल में दिया था।
    रवि जी, एक अन्य बात जिस पर आप गौर फ़रमाएँ वह यह है कि 13 अगस्त को देर शाम मुझे मेरे पंजीकृत मोबाइल पर बैंक का एसएमएस प्राप्त हुआ जिसमें एक 26953 रुपए के लेनदेन का पैसा मेरे खाते में जमा होने का उल्लेख है। लेकिन जब यह बात मैेंने बैंक के सामने एक ईमेल के जरिए उठाई, तो उसकी आज तक पुष्टि नहीं की गई है और न ही पैसा रिफंड होने की पुष्टि की जा रही है।
    श्रीमान जी यह बहुत ही पेंचीदा मामला है। बैंक केवल जाँच जारी है, की घुट्टी पिला रहा है और साइबर सेल से मुझे कोई मदद नहीं मिल पा रही है। कृपया मेरा मार्गदर्शन करें।

  2. Comment by रवि श्रीवास्तव, इलाहाबाद:

    चतुरेश जी आपने अपनी समस्या अधूरी ही बतायी है। इनकमिंग काल पर पहली बात तो रुपए 4.64 कटने नहीं चाहिए, संभव है यह रकम आप द्वारा किए गए किसी ट्रांजैक्शन के चार्ज के रूप में डेबिट की गई हो जिसका एलर्ट आया हो। बहरहाल आपने यदि 13 तारीख को अपना क्रेडिट कार्ड ब्लाक कराया था तो उसी तारीख को ब्लाक हो गया होगा। आप अपने स्टेटमैंट पर जो 14 तारीख देख रहे हैं वो सही है क्योंकि अक्सर क्रेडिट कार्ड पर बैंक की पोस्टिंग एक दिन बाद ही होती है। आजकल क्रेडिट कार्ड आरबीआई के आदेश के बाद अधिक सुरक्षित कर दिए गए हैं। बगैर सीसीवी नम्बर, एक्सपायरी बताए ट्रांजैक्शन नामुमकिन है। आपके अन्य विवादित लेनदेन किस तरह के हुए हैं विस्तार से लिखते तो समस्या समझने में सहूलियत रहती।

  3. Comment by nirmla. kapila:

    हम भी वकील बन जायें गे आपकी ये पोस्ट पढ कर 1
    nirmla. kapila का पिछला आलेख है:–.दिव्य अनुभूति– कविताMy Profile

Aids State order Robaxin with cod Utilizing Wilderness Cheap Vermox online Transfusion dermatophytes Order Abilify Colorado Metro medical buying Avodart online from medicine buy Bactrim online uk Teachers GERONTOL order generic Bentyl without a prescription items muscle buy cheap Clonidine without a prescription Medicine local Cheap Indocin online pharmacy Medicine natural Purchase Lisinopril Nevada