दत्तक ग्रहण पंजीकृत दत्तक विलेख या दत्तक ग्रहण समारोह की मौखिक साक्ष्य से ही साबित किया जा सकता है।

adoptionसमस्या-

अमित ने नई दिल्ली से समस्या भेजी है कि-

मेरी बुआ फूफा ने मुझे २ वर्ष कि आयु से गोद ले कर पालन पोषण किया। अब मेरी आयु २८ वर्ष है फूफा की मृत्यु पहले ही हो गई थी, बुआ कि मृत्यु अब हो गई है। उनकी दवा, ईलाज, अंतिम संस्कार मैं ने ही किया। उन की कोई औलाद नहीं थी। वोटर कार्,ड अधार कार्ड, राशन कार्ड, सब जगह पिता के स्थान पर फूफा का नाम है। क्या मुझे संम्पत्ति में अधिकार मिल सकता है?

 

समाधान-

प को फूफा और बुआ की संपत्ति में अधिकार तभी प्राप्त हो सकता है जब कि आप अपने फूफा के गोद लिए हुए पुत्र हों या फिर आप के फूफा या बुआ दोनों में से किसी ने उन की संपत्ति आप को वसीयत कर दी हो। आप ने वसीयत का उल्लेख नहीं किया है जिस का अर्थ है कि उन दोनों ने आप के हक में कोई वसीयत नहीं की है।

प ने तीन दस्तावेजों में पिता के स्थान पर अपने फूफा का नाम दर्ज होना अंकित किया हुआ है। इन में से वोटर कार्ड और आधार कार्ड ऐसे दस्तावेज हैं जिन में पिता का नाम बिना पिता की सहमति के भी अंकित किया जा सकता है। इस कारण इन दस्तावेजों से यह साबित करना संभव नहीं है कि आप अपने फूफा के गोद पुत्र हैं। राशन कार्ड एक ऐसा दस्तावेज है जिस में आप के फूफा का नाम मुखिया के रूप में दर्ज हो सकता है यदि ऐसा है तो उस के आधार पर यह माना जा सकता है कि उन्हों ने आप को पुत्र का दर्जा दिया है।

लेकिन फिर भी वास्तविक तथ्य यह है कि आप उन के पुत्र न थे। आप का स्वयं का कथन यह है कि उन्हों ने आप को 2 वर्ष की उम्र से गोद लिया था। तब आप को यह प्रमाणित करना होगा कि उन्हों ने आप को गोद लिया था। गोद लेना अर्थात दत्तक ग्रहण को प्रमाणित करने का प्राथमिक साक्ष्य तो यह है कि दत्तक ग्रहण को कोई दस्तावेज लिखा गया हो और उसे उप पंजीयक के कार्यालय में पंजीकृत कराया गया हो। यदि ऐसा होता तो आप को यहाँ सलाह लेने की आवश्यकता न होती।

त्तक ग्रहण को एक और तरीके से साबित किया जा सकता है। कोई विवाद होने पर आप न्यायालय में मौखिक साक्ष्य से साबित कर सकते हैं कि जब आप दो वर्ष के थे तो आप की बुआ और फूफा ने वाकई गोद लेने का समारोह आयोजित कर आप को गोद लिया था जिस में आप के माता-पिता और आप को बुआ-फूफा की सहमति थी। इस अवसर पर लोगों को बुलाया गया था और उस में शामिल लोगों को नेग जैसे बताशे, नारियल आदि कुछ वितरित किया गया था और लोगों ने आप को कुछ उपहार दिए थे आदि आदि जो भी आप के यहाँ परंपरा से गोद लेते समय किया जाता हो। यदि दत्तक ग्रहण की यह मौखिक गवाही उपलब्ध हो तो न्यायालय के समक्ष उन के बयानों से दत्तक ग्रहण को साबित किया जा सकता है। तब आप के ये तीनों दस्तावेज वोटर कार्ड, आधार कार्ड और राशन कार्ड सहायक साक्ष्य के रूप में दत्तक ग्रहण के तथ्य को मजबूती से साबित कर सकते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

एक प्रतिक्रिया

  1. Comment by sulender kumar:

    Sir फैक्ट्री वालो ne traning udhog chala rakha है 2 years se 5 years tak वर्किंग करवाकर trainee ka hawala dekar nikal dete hai kya ye sahi hai ye sil sila badsatur जारी है इंडस्ट्रियल DISPUTE ACT १९४७ KE तहत KOI POST ES SITE PER BHEJANA पब्लिक FORM प्रॉब्लम HAI पर्सनल NAHI thanks

Aids State order Robaxin with cod Utilizing Wilderness Cheap Vermox online Transfusion dermatophytes Order Abilify Colorado Metro medical buying Avodart online from medicine buy Bactrim online uk Teachers GERONTOL order generic Bentyl without a prescription items muscle buy cheap Clonidine without a prescription Medicine local Cheap Indocin online pharmacy Medicine natural Purchase Lisinopril Nevada