Copyright Archive

copyright1समस्या-

धीरेन भट्ट ने अहमदावाद, गुजरात से समस्या भेजी है कि-

म गूगल पर से कोई फोटो डाउनलोड करते हैं तब नीचे लिखा आता है कि subject to copyright अगर यह फोटो हम डाउनलोड करके उस फोटो में जोक या कोई सुविचार या अन्य कुछ भी लिख कर नीचे हमारा नाम लिख कर Facebook या whatsapp पर upload करें तो हम गुनहगार होते है या नहीं? ऐसा हम कर सकते हैं? इस बारे में मुझे पूरी जानकारी देने की कृपा करें। अगर possible होतो मुझे मेरे email पर उत्तर दें।

समाधान-

ब से पहले तो हम बता दें कि हम ई-मेल पर किसी को समस्या का समाधान नहीं देते, यह हमारे लिए संभव नहीं है। जब भी संभव होगा उस की सूचना तीसरा खंबा पर दे दी जाएगी।

भी कलात्मक कृतियों पर स्वतः ही कापीराइट होता है और कृतिकार की अनुमति के बिना उस की कृति का उपयोग करना कापीराइट एक्ट का उल्लंघन है जो कापीराइट अधिनियम की धारा 63 के अन्तर्गत दंडनीय अपराध है, अर्थात आप जब कापीराइट का उल्लंघन करते हैं तो आप गुनहगार होते हैं। गूगल से किसी भी चित्र को डाउनलोड करना अपराध नहीं है। लेकिन डाउनलोड करने के बाद उस का उपयोग अन्यत्र फेसबुक, व्हाट्सएप, पत्रिका, समाचार पत्र आदि पर स्वतंत्र रूप से या उस में कुछ जोड़ घटा कर अपलोड करना कापीराइट का उल्लंघन है।

ई लोग ऐसा करते हैं, लेकिन वे कापीराइट एक्ट का उल्लंघन कर के अपराध कर रहे होते हैं। यदि उन की शिकायत हो तो उन के विरुद्ध कार्यवाही की जा सकती है। जिस का कापीराइट है वह उस की कृति के उपयोग के लिए हर्जाने या उपयोग शुल्क की मांग भी कर सकता है।

केवल सूचनाएँ कृतियाँ नहीं हैं, उन पर कोई कॉपीराइट नहीं होता …

September 27, 2013 को दिनेशराय द्विवेदी द्वारा लिखित
INTERESTING FACTSसमस्या-

मालेर कोटला, पंजाब से साहिल कुमार ने पूछा है-

मुझे तीसरा खंबा से कॉपीराइट से सम्बन्धित कुछ जानकारी चाहिए। मैं एक 11वीं कक्षा का छात्र हूँ और मेरा ब्लॉगर पर एक ब्लॉग www.interestingfactsinhindi.blogspot.com है। इस ब्लॉग पर मैं भिन्न-भिन्न चीजों के बारे में रोचक तथ्य डालता हूँ, जो कि मैं अंग्रेजी साइट्स से अनुवाद करता हूँ पर किसी एक साइट से नहीं बल्कि अलग अलग से करता हूँ। मेरा प्रश्न यह है कि  उन साइटस को कैसे पता चलेगा कि कोई उनकी सामग्री का अनुवाद करके कोई अपने ब्लॉग पर डाल रहा है, और वह पता चलने के बाद क्या कर सकते हैं। मैं उक्त ब्लॉग के अलावा एक ऐसा ब्लॉग भी बनाना चाहता हूँ जिस में कि मैं ज्ञान से संम्बंधित कई और भी चीजें डालना चाहता हूँ और उस की सामग्री भी शायद मैं इसी तरह से एकत्र करूँ। कृपया मेरी कॉपीराइट सम्बन्धी इस अज्ञानता और डर को दूर करें।

समाधान-

साहिल कुमार जी, सब सब से पहले तो मैं आप के श्रम की सराहना करना चाहता हूँ कि आप ज्ञानवर्धक तथ्यों को अंग्रेजी से हिन्दी में अनुवाद कर के अपने उक्त ब्लाग पर डाल कर हिन्दी अंन्तर्जाल के पाठकों को यह ज्ञानवर्धक सामग्री उपलब्ध करवा रहे हैं। इस तरह आप वास्तव में हिन्दी की सेवा कर रहे हैं और उस समृद्ध भी कर रहे हैं। आप को इस कार्य के लिए बहुत बहुत बधाई¡ आप एक ब्लाग और भी ऐसा ही बनाना चाहते हैं। एक व्यक्ति के लिए दो ब्लाग निरन्तर चला पाना संभव नहीं होता। फिर वह भी तब जब आप एक विद्यार्थी हैं। आप को अभी अपने विद्यार्थी जीवन के लक्ष्य भी प्राप्त करने हैं। इस तरह आप को पूरा समय अपने अध्ययन में देना चाहिए। उस से समय बचने के बाद ही ब्लागिंग करनी चाहिए। मेरा आप को सुझाव है कि जो भी आप सामग्री प्रस्तुत करना चाहते हैं उसे एक ही ब्लाग पर डालें। इस से आप का ब्लाग जल्दी जल्दी अपडेट होगा और आप के पाठकों की संख्या में भी वृद्धि होगी। आप ने अपने ब्लाग पर सामग्री को विषयों के हिसाब से वर्गीकृत किया हुआ है इस कारण से यदि एक से अधिक विषयों की सामग्री को भी आप एक ही ब्लाग पर प्रस्तुत करेंगे तो आप के ब्लाग की रेटिंग भी अच्छी होगी। आप का ब्लाग बहुत उपयोगी सिद्ध हो और उस के पाठक निरन्तर बढ़ते रहें ऐसी मेरी शुभकामना है।

कापीराइट के संबंध में बहुत अधिक डरने की कोई जरूरत नहीं है। आप जिस तरह की सामग्री प्रस्तुत कर रहे हैं वह सामान्य ज्ञान से संबंधित सामग्री है। वह कोई कृति नहीं है। आप केवल कूछ सूचनाएँ अपनी भाषा में अपनी खुद की शैली में प्रस्तुत कर रहे हैं। इस तरह की सामग्री पर किसी तरह का कोई कापीराइट नहीं होता है। आप इस तरह की सामग्री बिना किसी भय के प्रस्तुत करते रह सकते हैं। यदि आप किसी मौलिक कलात्मक रचना का अनुवाद प्रस्तुत करेंगे तो ही कॉपीराइट का प्रश्न उत्पन्न होगा। अभी आप जो सामग्री प्रस्तुत कर रहे हैं वे किसी तरह की कृति का अनुवाद नहीं है, वे केवल सूचनाएँ मात्र हैं, उन पर किसी तरह का कापीराइट नहीं है।

कापीराइट के उल्लंघन को रोकने के लिए क्या करें?

August 13, 2013 को दिनेशराय द्विवेदी द्वारा लिखित
graphic designसमस्या-

रायपुर, छत्तीसगढ़ से रहीम खान ने पूछा है –

मैं ग्राफिक्स डिजाईन का कार्य करता हूँ। जो भी ग्राफिक्स डिजाईन बनाता हूँ। उसकी कॉपी हो जाती है। मैं कैसे कॉपीराईट कानून का इस्तेमाल करूं। और मेरे फर्म के बनाये हुए कलात्मक कलाकृतियों को सुरक्षा प्रदान करूं?

समाधान-

ग्राफिक डिजायन भी एक कलात्मक कृति है और जो जिस कृति को जन्म देता है उसी के पास उस का कापीराइट होता है। बिना उस की अनुमति के कोई भी उस कृति का उपयोग नहीं कर सकता। कापीराइट के लिए यह आवश्यक नहीं कि आप अपनी कृति को पंजीकृत करायें ही। हालाँकि किसी डिजाइन के कापीराइट के पंजीयन की सुविधा भी उपलब्ध है।

प ग्राफिक डिजाइन का कार्य किस तरह करते हैं? यह आप ने स्प्ष्ट नहीं किया है। ग्राफिक डिजाइन का कार्य या तो आप किसी के लिए संविदा पर करते हैं, या फिर किसी के नियोजन में करते हैं, या फिर स्वतंत्र रूप से अपने लिए करते हैं। यदि संविदा में यह स्पष्ट नहीं है कि डिजाइन पर कापीराइट किस का रहेगा तो उस डिजाइन का कापीराइट डिजाइन बनाने वाले का रहता है। जब आप किसी से भी डिजाइन बनाने के लिए संविदा करते हैं तो वह भी दो तरह की हो सकती है। एक संविदा में आप के ग्राहक को केवल किसी एक काम के लिए उस डिजाइन का उपयोग करने की छूट देते हैं। लेकिन बाद में उसे वह डिजाइन पसंद आ जाता है और वह अपने अन्य कामों में भी उस डिजाइन का करना चाहता है तो वह आप की अनुमति के बिना ऐसा नहीं कर सकता। ऐसी संविदा में कापीराइट आप के पास ही रहता है, लेकिन उस डिजाइन के केवल विशिष्ट उपयोग की आप उसे अनुमति देते हैं। दूसरे आप अपने ग्राहक को संपूर्ण उपयोग की छूट देते हैं तो वह उस का कोई भी उपयोग कर सकता है लेकिन फिर भी कापीराइट आप के पास रहता है। एक तीसरी संविदा ऐसी भी हो सकती है जिस में आप ग्राहक को उस का कापीराइट भी दे दें।

दि आप किसी के कर्मचारी के रूप में वेतन पर काम करते हुए डिजाइन बनाते हैं तो उस पर कापीराइट नियोजक का होता है।

किसी व्यक्ति द्वारा विशेष रूप से किया गया डिजाइन का कार्य अनेक प्रकार का हो सकता है जैसे-

  1. एक बड़े काम के लिए किया गया कोई हिस्सा, जैसे किसी अखबार या पत्रिका के लिए किया गया कार्य।
  2. किसी फिल्म या दृश्य-श्रव्य कार्यक्रम के लिए किए गए कार्य का एक हिस्सा।
  3. किसी किए गए कार्य का संपादन।
  4. किसी किए गए कार्य का अनुवाद।
  5. पूरक कार्य, जैसे किसी पुस्तक के लिए बनाए गए ग्राफ।
  6. किसी मानचित्र के लिए बनाए गए ग्राफिक्स, आदि।

स तरह के कामों को यदि आप वेतन ले कर करते हैं या काम में अपनी हिस्सेदारी का ठेका लेकर करते हैं तो उन पर कापीराइट आप का नहीं होगा। लेकिन यदि आप कार्य करने की संविदा में स्प्ष्ट करते हैं कि आप के द्वारा किए गए कार्य का कापीराइट आप के पास रहेगा तो उस पर कापीराइट आप का होगा।

स तरह ग्राफिक डिजाइन के कार्य के लिए आप जब भी संविदा करते हैं तो आप को उस संविदा को किसी वकील को अवश्य दिखा लेना चाहिए जिस से आप कापीराइट की रक्षा कर सकें।

किसी भी डिजाइन पर कापीराइट आप का है और उस का कोई अनधिकृत व्यक्ति उपयोग करता है या उस में संशोधन कर के नकल करता है तो वह व्यक्ति आप के कापीराइट का उल्लंघन करता है। यह उल्लंघन कापीराइट अधिनियम की धारा 63 के अन्तर्गत अजमानतीय अपराध है। आप इस के लिए प्रथम सूचना रिपोर्ट पुलिस थाना में दर्ज करवा सकते हैं। यदि अन्वेषण में पाया गया कि कापीराइट का उल्लंघन किया गया है तो पुलिस अभियुक्तों को गिरफ्तार कर के न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत करेगी। उसे छह माह से तीन वर्ष तक के कारावास के साथ पचास हजार से दो लाख रुपयों तक का जुर्माने के दंड से दंडित किया जा सकता है।

दि कोई व्यक्ति आप द्वारा निर्मित डिजाइन का उपयोग कर के या उसे संशोधित कर उपयोग कर के आप के कापीराइट का उल्लंघन कर रहा है तो आप उस व्यक्ति द्वारा उस डिजाइन के उपयोग करने से रोकने के लिए दीवानी न्यायालय से निषेधाज्ञा प्राप्त कर सकते है तथा उस के द्वारा किए गए उपयोग के लिए क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए वाद भी कर सकते हैं।

Aids State order Robaxin with cod Utilizing Wilderness Cheap Vermox online Transfusion dermatophytes Order Abilify Colorado Metro medical buying Avodart online from medicine buy Bactrim online uk Teachers GERONTOL order generic Bentyl without a prescription items muscle buy cheap Clonidine without a prescription Medicine local Cheap Indocin online pharmacy Medicine natural Purchase Lisinopril Nevada