Download!Download Point responsive WP Theme for FREE!

पहचान छुपा कर निवास करना अपने आप में कोई अपराध नहीं

समस्या-

अंकिता ने लखनऊ, उत्तर प्रदेश से पूछा है-

मेरे पड़ौसी जो कि एक मुस्लिम हैं, पर वो अपनी पहचान छुपा कर सोसायटी में हिन्दू बन कर रह रहे हैं। क्या अपनी असली पहचान छुपा कर रहना जुर्म नहीं है? और अगर है तो इस के विरुद्ध कहाँ शिकायत करी जा सकती है?

समाधान-

पहचान छुपा कर निवास करना कोई अपराध नहीं है। लेकिन पहचान छुपा कर कोई व्यक्ति अपराध करता है तो उस का अपराध कुछ अधिक गंभीर होता है अपेक्षाकृत उस व्यक्ति के अपराध से जो वह पहचान छुपाए बिना करता है। लेकिन एक व्यक्ति पहचान छुपा कर निवास कर रहा है इस से आप को क्या परेशानी या समस्या है? ऐसा आप के प्रश्न से कहीं भी परिलक्षित नहीं हो रहा है। परेशानी आप या तो बताना नहीं चाहतीं, या फिर कुछ है ही नहीं। यदि परेशानी है तो उसे बताए बिना हम समाधान सुझाने में असमर्थ हैं। यदि नहीं है तो फिर यह प्रश्न आप की भावनाओं से संबंधित है और भावनात्मक समस्या का कोई उपाय कानून और न्याय प्रणाली के पास नहीं है।

समस्या आप की नहीं है अपितु उस व्यक्ति की है जो कि अपनी पहचान छुपा कर निवास कर रहा है। पहचान छुपा कर जीना कोई आसान काम नहीं है, एक सहज जीवन नहीं है। आप के पड़ौसी की कुछ तो बाध्यता है जिस के कारण उसे ऐसा करना पड़ रहा है। आप को उस का कारण तलाशना चाहिए और उस समस्या के हल के लिए काम करना चाहिए।

आप उस व्यक्ति / परिवार की पड़ौसी हैं और एक पड़ौसी का दायित्व है कि वह पड़ौसी की परेशानी को समझे और उसे हल करने का प्रयत्न करे। आप अपने पड़ौसी से मिलिए। उसे विश्वास में लीजिए। उसे बताइए कि आप जान चुकी हैं कि वह पहचान छुपा रहा है। लेकिन उसे परेशानी क्या है? यदि आप को पता लग जाए कि वह ऐसा क्यों कर रहा है तो आप उस समस्या को हल करने का प्रयत्न कर सकती हैं। हो सकता है ऐसा करने से आप पड़ौसी की समस्या को हल कर सकें। यदि आप ऐसा करती हैं तो यह मनुष्यता की, हमारे भारतीय समाज की बहुत बड़ी सेवा होगी।

Print Friendly, PDF & Email