Download!Download Point responsive WP Theme for FREE!

तीसरा खंबा से अपनी कानूनी समस्याओं का समाधान चाहने के लिए क्या करें?

पाठक मित्रों!

तीसरा खंबा पाठकों की कानूनी समस्या के लिए समाधान प्रस्तुत करता है।  यदि किसी पाठक के पास अपनी, अपने परिवारजन की, अपने किसी संबंधी या मित्र की कोई वास्तविक समस्या हो तो उस का पूरा विवरण समस्या से संबंधित जिले, प्रान्त व नगर/ गाँव का उल्लेख करते हुए लिखें।  अनेक समस्याओं के साथ जरूरी विवरण नहीं होते जिस के कारण उन्हें ठीक से समझना और उस का समाधान प्रस्तुत करना कठिन हो जाता है। ऐसी स्थिति में सुझाया गया उपाय गलत भी हो सकता है. और हो सकता है वह कारगर न हो। समस्या के साथ जो प्रश्न आप पूछना चाहते हैं उन्हें स्पष्ट रूप से लिखें। अनेक बार समस्या तो लिख दी जाती है लेकिन प्रश्न नदारद होते हैं। इस कारण समस्या को विस्तार से लिखें।

पनी कानूनी समस्या का समाधान चाहने वाले अनेक व्यक्ति अपना नाम पता गोपनीय रखना चाहते हैं, वे अपने असली नाम पता के साथ काल्पनिक नाम व पता लिख सकते हैं।  लेकिन समस्या जिस जिले, प्रान्त और नगर या गाँव  से संबंधित है उस का उल्लेख सही सही करें और अवश्य करें।  क्यों कि किसी भी  समस्या के समाधान का उस से सम्बन्धित नगर/ गाँव, जिला और प्रान्त से गहरा संबंध होता है अनेक कानूनी उपबंधों में भी अन्तर होता है।  सभी समस्याओं के लिए उपाय केवल तीसरा खंबा पर ही प्रस्तुत किए जाएंगे। कोई भी व्यक्ति यह अपेक्षा न करे कि समस्या का समाधान उसे मेल द्वारा या टेलीफोन द्वारा सूचित किया जाएग। टेलीफोन नं. का उद्देश्य मात्र इतना है कि समस्या का समाधान देते समय यदि कुछ तथ्यों की जानकारी हमें करनी हो तो हम संबंधित व्यक्ति से उन की जानकारी कर लें।

लेकिन हमारा उद्देश्य है कि अन्य लोग भी उस समस्या से कुछ सीखें और समय आने पर अपने ज्ञान का उपयोग करें। हम पाठकों की समस्या का समाधान शीघ्रता से देने का प्रयत्न करते हैं। कुछ पाठक जल्दबाजी में अपना प्रश्न हमें भेज देते हैं। समस्या का समाधान वेबसाइट पर प्रस्तुत कर देने के उपरान्त उन्हें लगता है कि कुछ विवरण छूट गया है और वे दुबारा प्रश्न भेज देते हैं। एक ही पाठक की एक ही समस्या के समाधान के बारे में बार बार वेबसाइट पर नहीं लिखा जा सकता है। इस कारण प्रश्नकर्ता से यह अपेक्षा है कि वे अपने प्रश्न से संबंधित समस्त विवरण एक बार में ही हमें प्रस्तुत करें।  एक बार समाधान वेबसाइट पर प्रस्तुत कर देने के उपरान्त उस समस्या के बारे में आगे पुनः चर्चा कर पाना संभव नहीं होगा

तीसरा खंबा को प्रतिदिन ही अनेक समस्याएँ समाधान हेतु प्राप्त होती हैं। वर्ष 2012 में लगभग 600 समस्याएँ हमें प्राप्त हुईं। इन दिनों प्रतिदिन दो-तीन समस्याएँ प्राप्त होती हैं। हर समस्या को समझना पड़ता है, उस का व्यवहारिक समाधान प्रस्तुत करना श्रमसाध्य काम है। हम चाहते हैं कि प्रतिदिन कम से कम एक समस्या का समाधान अवश्य प्रस्तुत करें। लेकिन प्रयत्न करते हुए भी वर्ष 2012 में हम 600 में से केवल 325 समस्याओं के समाधान प्रस्तुत कर सके।  इस से स्पष्ट है कि तीसरा खंबा के लिए अपनी वर्तमान क्षमता के अनुरूप उसे प्राप्त सभी समस्याओं का समाधान प्रस्तुत करना संभव नहीं है। हमें अनेक समस्याएँ ऐसी प्राप्त होती हैं कि उन में पर्याप्त तथ्य नहीं होते। अनेक बार तो समाधान के लिए आवश्यक तथ्यों का अभाव होता है वैसी स्थिति में उन का समाधान प्रस्तुत करना संभव नहीं होता। ऐसी समस्याओं का हम कोई उत्तर नहीं देते। कोई भी समस्या प्राप्त होते ही उसे तुरन्त देखा जाता है और यदि उस का समाधान तुरन्त प्रस्तुत करना हमें जरूरी लगता है तो हम तुरंत उस का समाधान प्रस्तुत करते हैं उस से पहले प्राप्त समस्या का बाद में।  किसी भी समस्या का समाधान आम तौर पर 15-20 दिनों में प्रस्तुत कर दिया जाता है। यदि किसी पाठक की समस्या का समाधान 20 दिनों तक तीसरा खंबा पर दिखाई न दे तो उसे समझना चाहिए कि उस ने अपनी समस्या में तथ्यों की कमियाँ छोड़ दी हैं जिस के कारण उस का समाधान प्रस्तुत कर पाना संभव नहीं है। वह पाठक अपनी समस्या को सभी आवश्यक तथ्यों सहित दुबारा भेज सकता है लेकिन उसे चाहिए कि वह पहले भेजी गई समस्या की तिथि अवश्य अंकित करे।

तीसरा खंबा तकनीकी सहयोग के अतिरिक्त एक व्यक्ति का व्यक्तिगत प्रयास है, उस के साधन बहुत सीमित हैं। अपने पास आई सभी समस्याओं का उत्तर देना तीसरा खंबा के लिए संभव नहीं है। यदि किसी पाठक को उस की समस्या का समाधान तीसरा खंबा से प्राप्त न हो तो कृपया वह हमें क्षमा करें।

अंग्रेजीमें कानूनी समस्याओं के समाधान के लिए अनेक वेब साइटस् उपलब्ध हैं। अंग्रेजी में अपनी समस्या लिखने और समाधान चाहने वाले वहाँ जाएँ। एक साइटलायर्स क्लब इंडिया की है पाठक यहाँ क्लिक कर के वहाँ जा सकते हैंऔर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।   पाठक अपनी समस्या को हिन्दी में टाइप करें। यदि यूनिकोड हिन्दी टाइपिंग नहीं आती है तो क्रुतिदेव फोन्ट में अन्यत्र टाइप कर यहाँ पेस्ट कर दें या रोमन हिन्दी में टाइप करें। यदि आप ने अपनी समस्या अंग्रेजी में लिखी है तो उस का समाधान प्रस्तुत करना हमारे लिए संभव नहीं होगा।

कुछ पाठक जिन्हें तीसरा खंबा की सलाह से लाभ होता है वे अनेक समस्याओं को बार बार इस तरह प्रस्तुत करते हैं जैसे तीसरा खंबा उन का व्यक्तिगत  विधिक सलाहकार हो। इस तरह एक ही पाठक की अनेक समस्याओं का समाधान प्रस्तुत करना तीसरा खंबा के लिए संभव नहीं है।

 

-दिनेशराय द्विवेदी

Print Friendly, PDF & Email
One Comment