Download!Download Point responsive WP Theme for FREE!

सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारी अपने नियोजन के बारे में सूचनाएँ सूचना के अधिकार कानून में मांग सकते हैं।

RTIसमस्या-

शैलेश प्रकाश ने बेगूसराय, बिहार से समस्या भेजी है कि-

मैं आईओसीएल बरौनी रिफाइनरी में जून 2010 से पर्मनेंट एमपलोई हूँ। मेरा प्रमोशन 2014 के जुलाई में होना था, पर नही हुआ। मेरा कॉनफिडेंशियल रिपोर्ट (पर्फॉर्मेन्स रिपोर्ट) 2011, 2012, 2013, 2014 का हुआ था यह कैसे पता लगेगा। क्योंकि मैं ने जब अपनी कॉनफिडेंशियल रिपोर्ट (पर्फॉर्मेन्स रिपोर्ट) संबंधित ऑफीसर से जानना चाहा तो ओफिसर ने नहीं बताया। उन का कहना था कि ये नहीं बताया जाएगा। इस का क्या रास्ता है जिस से मुझे अपना कॉनफिडेंशियल रिपोर्ट (पर्फॉर्मेन्स) का पता लगे। जिस से मुझे पता लगे कि मेरा इस वर्ष की पर्फॉर्मेन्स कैसी रही?

समाधान-

प का संस्थान सार्वजनिक क्षेत्र का संस्थान है जिस में सूचना का अधिकार अधिनियम प्रभावी है। आप सूचना के अधिकार के अन्तर्गत आवेदन दे कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं कि आप के विगत वर्षों की परफोरमेंस (कॉन्फिडेंशियल) रिपोर्ट दी गई है या नहीं।

लेकिन आप कॉन्फिडेंशियल रिपोर्ट को देख नहीं सकते न ही पढ़ सकते हैं क्यों कि वह एक गोपनीय प्रलेख है। यदि आप को वह रिपोर्ट दे दी जाए या पढ़ा दी जाए तो वह गोपनीय नहीं रह जाएगी।

स संबंध में यह नियम है कि यदि आप की कॉन्फिडेंशियल रिपोर्ट में कोई नकारात्मक टिप्पणी होगी तो उसे प्रबंधन को आप को सूचित करना पड़ेगा। यदि आप की गोपनीय रिपोर्ट दी गई है और किसी नकारात्मक टिप्पणी की सूचना आप को नहीं दी गई है तो आप को यही समझना चाहिए कि आप के विरुद्ध कोई नकारात्मक टिप्पणी नहीं दी गई है। यदि दी भी गई हो तो उस का कोई उपयोग नहीं किया जा सकता। क्यों कि उस की सूचना आप को नहीं दी गई है। आप की पदोन्नति जुलाई 2014 में नहीं हो सकी है तो उस का कोई अन्य कारण रहा होगा। जब आप सूचना के अधिकार के अन्तर्गत सूचना मांगे तो आप यह सूचना भी मांग सकते हैं कि आप को जुलाई 2014 में पदोन्नत किया जाना था वह किस कारण से नहीं किया गया है।

Print Friendly, PDF & Email