Download!Download Point responsive WP Theme for FREE!

Category: उत्तराधिकार

किसी की मृत्यु के समय कोई संपत्ति या ऋण न हो तो उत्तराधिकार भी नहीं हो सकता।

समस्या- इन्‍द्र कुमार कंचनवार ने ग्राम बरघाट, ‍जिला सिवनी, मध्‍यप्रदेश से पूछा है- मेरे पिता की दो पत्नियां थी।  एक पत्नी से 1 संतान। पहली पत्नू की मृत्‍यु
Read More

मृत पुत्र की संतानों को पुत्र के समान ही दादा की संपत्ति में उत्तराधिकार है।

समस्या- नितिका चौहान ने ग्राम खेडली, पोस्ट भद्रबाद, जिला हरिद्वार, उत्तराखंड से पूछा है- मेरा जन्म 1992 में हुआ था। मेरे मेरे दादाजी के दो पुत्र मेरे ताऊजी
Read More

दूसरी वैध पत्नी को भी पहली मृत पत्नी के समान ही उत्तराधिकार प्राप्त होगा।

समस्या- हरगोबिंद सिंह ने ग्राम पो. मालारामपुरा, जिला हनुमानगढ़, राजस्थान से पूछा है- पत्नी की मृत्यु के बाद पुरूष ने किसी महिला से शादी कर ली, तो इस
Read More

सहदायिक संपत्ति कभी अपना चरित्र नहीं खोती।

समस्या- दीपक शर्मा ने जयपुर, राजस्थान से पूछा है-   मेरे दादा जी तीन भाई थे तीनो भाइयों का मौखिक बंटवारा हुआ था और सम्पति के अलग अलग भाग
Read More

वसीयत का पंजीकृत अथवा किसी स्टाम्प पेपर पर होना जरूरी नहीं है।

समस्या- स्वाति साहू ने राजा तालाब, गाँधी चौक, रायपुर, छत्तीसगढ़ से पूछा है- मेरे दादा जी ने अपने स्वयं के पैसे से लिये हुए मकान में मेरी बेवा
Read More

भागीदार को पुश्तेैनी संपत्ति में किसी अन्य भागीदार द्वारा हिस्सा बेचने पर पूर्व-क्रयाधिकार प्राप्त है।

समस्या- मानिक राम सिन्हा ने ग्राम बोरीदखुर्द, पोस्ट शान्तिपुर, वाया गुरूर ब्लाक, जिला धमतरी बिहार से पूछा है- हम लोग दो भाई बहन है पूरी पैत्रृक संपत्ति को
Read More

पुत्री पुश्तैनी सहदायिक संपत्ति में अपना हिस्सा प्राप्त करने के लिए बंटवारे का वाद संस्थित कर सकती है।

समस्या- परमजीत खन्ना ने मरीवाला टाउन, मणिमाजरा, चंडीगढ़ से पूछा है- हम दो भाई बहन हैं। मेरे पापा को मेरे दादा जी से 1974 में संपत्ति विरासत में
Read More

राजस्व रिकार्ड का निरीक्षण कर पता लगाएँ कि पुश्तैनी जमीन कौन सी है?

समस्या- दुर्गेश शर्मा ने मदनगंज किशनगढ़, जिला अजमेर, राजस्थान से पूछा है- मेरे दादा जी दो भाई थे, उनके बड़े भाई ने शादी नहीं की थी और ना
Read More

माता-पिता के प्रति कानूनी दायित्वों का त्याग संभव नहीं है।

समस्या- उदय कुमार ने ग्राम गोबिन्दपुर, पोस्ट मांझागढ़, जिला गोपालगंज, बिहार से पूछा है- मेरे एक मित्र की समस्या है कि वह अपने माता-पिता की सुख-दुख, परवरिश, बुढ़ापे
Read More